आज फिक्स वृत्त मंत्री ने केंद्र सरकार के आत्मनिर्भर किसके बारे में बात की और उसकी जानकारी देने के लिए पांचवी और अंतिम कॉन्फ्रेंस की

0
1255
आज फिक्स वृत्त मंत्री
आज फिक्स वृत्त मंत्री

वृत्त मंत्री ने आज केंद्र सरकार के आत्मनिर्भर वार्ता किस के बारे में जानकारी देने के लिए पांचवी और अंतिम प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि को रोना की वजह से लगाए गए योगदान के दौरान कई कारोबार बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। कंपनी कानून अधिकतर मामूली उल्लंघन गलती के लिए अपराधीकरण की दृष्टि से बाहर किया।

इसमें सीएसआर की रिपोर्टिंग बोर्ड रिपोर्टिंग फाइलिंग डिफॉल्ट और एसडीएम की होल्डिंग शामिल सात कंपाउंडिंग आफ ऑफेंसेस हकीकत को खत्म किया। वृत्त मंत्री ने इसके आगे कहा कि दिवालिया घोषित करने की प्रक्रिया पर 1 साल की रोक लगाई जाएगी। अब इस बात का यह मतलब है कि कर अदा करने की हाइट को 1 साल तक के लिए इंसॉल्वेंसी में शामिल नहीं किया जाएगा।

छोटे उद्योगों के दिवालिया होने की सीमा को एक लाख से बढ़ाकर एक करोड़ किया जाएगा। वित्त मंत्री ने यह भी बताया कि ऑनलाइन शिक्षा को बढ़ावा दिया जाएगा इस योगदान के दौरान 200 नई किताबें ई पाठशाला में जोड़ी गई। ऑनलाइन क्लास के लिए डीटीएच पर अभी 3 चैनल चल रहे हैं।

जल्द 12 नए चैनल शुरू किए जाएंगे ग्रामीण इलाकों में तकनीक के जरिए पढ़ाई होगी। मनरेगा के लिए एक ₹60000 का बर्थडे है। मनरेगा के लिए 40000 करोड रुपए का अतिरिक्त प्रावधान किया गया है। निर्मला सीतारमन ने कहा कि देश भक्त संकट के दौर से गुजर रहा है संकट का दौर नया और फिर भी खोलता है। vrit mantri ke bare me jane

पीएम मोदी ने कहा कि आपदा को अवसर में बदलने की जरूरत है जमीन मजदूर नगरी पर पीएम मोदी ने कहा कि आपदा को अवसर में बदलने की जरूरत है जमीन मजदूर नगरी पर नगदी पर राहत पैकेज में दौड़ जोड़ दिया गया है हमें आत्मनिर्भर भारत बनाना है। लंदन के साथ ही गरीब कल्याण फंड की घोषणा की गई।

प्रवासियों का पूरा ख्याल है। सरकार गरीब तक फोरम मदद पहुंचाने की हरसंभव कोशिश कर रही है। हम उनकी आर्थिक मदद कर रहे हैं। वृत्त मंत्री ने आगे कहा 20 करोड़ लोगों के जनधन खातों में पैसे भेजे गए हैं। 16 मई तक करीब 9 करोड़ किसान के खेतों में दो ₹2000 भेजे गए।

अभी तक महिलाओं के खातों में 10000 करोड रुपए डाले गए हैं। उज्वला योजना के तहत जरूरतमंदों को मुफ्त सिलेंडर मुहैया कराया जा रहा है। 12 लाख से ज्यादा ईपीएफओ धारकों को फायदा पहुंचाया गया। कंस्ट्रक्शन मजदूरों के खाते में 50 करोड़ से ज्यादा रुपए डाले गए।

बता देगी वित्त मंत्री पिछले 4 दिनों से लगातार इस पैकेज से जुड़ी जानकारियां दे रहे हैं। शनिवार को अमृत मंत्री ने चौथी किस्त का ऐलान किया था। जिसमें कोयला रक्षा विनिर्माण बिना विमानन अंतरिक्ष बिजली वितरण आदि क्षेत्रों में रिफॉर्म्स पर जोर दिया गया है। सरकार काला 6 की 2019 से 2020 से लेकर 2024 25 तक 11 100 23:00 लाख करोड रुपए पर खर्च किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए 20 लाख करोड रुपए में आर्थिक पैकेज की घोषणा की। आर्थिक पैकेज की चौथी किस्त के ऐलान के बाद पीएम मोदी ने कहा था कि सरकार द्वारा घोषित आर्थिक उपायों से को कारोबार के अवसर बढ़ेंगे और अर्थव्यवस्था का कायाकल्प करने में मदद मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here